UP Govt 2 Child Policy, Population Control Bill Draft PDF, Rules, Benefits – sarkariaresult.com

यूपी सरकार 2 चाइल्ड पॉलिसी upslc.upsdc.gov.in पर यूपी जनसंख्या नियंत्रण बिल ड्राफ्ट पीडीएफ डाउनलोड करें। यूपी सरकार विधि आयोग की आधिकारिक वेबसाइट में upslc upsdc gov पर यूपी टू चाइल्ड पॉलिसी रूल्स, बेनिफिट्स और सुझावों के बारे में आप सभी को पता होना चाहिए। मुख्यमंत्री योगी द्वारा 11 जुलाई, 2021 को आधिकारिक तौर पर इसकी घोषणा करने के बाद से यह इंटरनेट पर ट्रेंड कर रहा है, और 9 दिनों के भीतर 19 जुलाई, 2021 तक इसका मसौदा तैयार किया जाएगा। उत्तर प्रदेश 21 करोड़ भारत में सबसे अधिक आबादी वाला राज्य रहा है। राज्य की प्रजनन दर 2.7 प्रतिशत है जो कि 2.1 प्रतिशत ही होनी चाहिए। जन्म नियंत्रण के लिए, उत्तर प्रदेश सरकार राज्य विधि आयोग की आधिकारिक वेबसाइट अब जनसंख्या नियमन कानून को लागू करने के साथ यूपी जन्म नियंत्रण नीति लेकर आई है।

चुनाव से पहले, योगी सरकार विधि आयोग यूपी सरकार जनसंख्या नियंत्रण ड्राफ्ट बिल पीडीएफ में 2 बाल नीति प्रस्तुत करता है। upslc upsdc gov in hindi डाउनलोड करें। सीमित संसाधनों के साथ, जन्म नियंत्रण, स्थिरीकरण और कल्याण के लिए कदम उठाना होगा। आइए यूपी सरकार 2 चाइल्ड पॉलिसी बर्थ कंट्रोल पॉपुलेशन कंट्रोल बिल ड्राफ्ट, सुझाव आदि के बारे में और जानें। अगर आप भी ये सोच रहे हैं की यूपी 2 चाइल्ड पॉपुलेशन पॉलिसी क्या है तो सारी जानकारी आप पढ़ सकते हैं।

यूपी सरकार 2 बाल नीति

उत्तर प्रदेश चुनाव में बस कुछ महीने दूर हैं और सरकार ने राज्य में यूपी 2 चाइल्ड पॉलिसी का प्रस्ताव रखा है। उत्तर प्रदेश राज्य विधि आयोग यूपीएसएलसी की आधिकारिक वेबसाइट के तहत यूपी जनसंख्या नियंत्रण, स्थिरीकरण और कल्याण मसौदा विधेयक 2021- 30 पारित किया गया है। उत्तर प्रदेश टू चाइल्ड पॉलिसी जनसंख्या बिल के तहत जो मुख्य आकर्षक बिंदु बनाया गया है वह यह है कि जो कोई भी नीति मानदंडों का पालन नहीं करेगा उसे सरकारी नौकरी नहीं मिलेगी। यूपी सरकार के कर्मचारियों में यह 2 चाइल्ड पॉलिसी केवल विवाहित जोड़ों के लिए है। उन जोड़ों के लिए कई प्रोत्साहन दिए गए हैं जिनके दो बच्चे हैं चाहे वह लड़का हो या लड़की। साथ ही उन दंपत्तियों के लिए जिनका एक ही बच्चा है चाहे लड़का हो या लड़की। यूपी ही नहीं असम ने भी राज्य में यह फैसला लिया।

यूपी सरकार 2 बाल नीति, जनसंख्या नियंत्रण विधेयक ड्राफ्ट पीडीएफ, नियम, लाभ
यूपी सरकार 2 बाल नीति, जनसंख्या नियंत्रण विधेयक ड्राफ्ट पीडीएफ, नियम, लाभ

पॉलिसी का नामयूपी जनसंख्या नियंत्रण, स्थिरीकरण और कल्याण विधेयक 2021
मसौदा विधेयक प्रस्तावित11 जुलाई 2021
यूपी में 2 चाइल्ड पॉलिसी का प्रस्तावराज्य विधि आयोग, उत्तर प्रदेश (विधि आयोग)
नीति का मसौदा तैयार किया जाना है19 जुलाई 2021
नीति लागूकेवल विवाहित जोड़ों पर
आधिकारिक वेबसाइटupslc.upsdc.gov.in
यूपी की जनसंख्या (जनसंख्या) कितनी है20.42 करोड़ (2012 में)

जीनोम से चलने वाला यह है कि इस समय भारत की प्रजनन दर 2.2 है| कुछ स्थिति में लोगो को इस बारे में अधिक जानकारी देनी होगी। सामाजिक सुरक्षा व्यवस्था में सुधार हुआ है। अगर आप इस संशोधन को संशोधित कर सकते हैं तो सुझाव भी दे दें|

यूपी जनसंख्या नियंत्रण बिल ड्राफ्ट पीडीएफ

अब इस यूपी सरकार 2 बाल नीति की सीधी रेखा हिंदी कब लागू होगी में राज्य में जनसंख्या को नियंत्रित करना है। यूपी जनसंख्या नियंत्रण विधेयक के मसौदे में कई सूक्ष्म विवरण दिए गए हैं जिन पर आपको ध्यान देने की आवश्यकता है। इसके अलावा, यह अभी भी एक मसौदा बिल है और विधि आयोग की वेबसाइट में upslc upsdc gov द्वारा अंतिम रिलीज से पहले कई संशोधन किए जाएंगे।

  • यदि किसी दंपत्ति को १.१.२०२१ को बच्चा हुआ है और १.१.२०२३ तक उन्होंने अपने दूसरे बच्चे को जन्म दिया है तो दंपति इस कानून के तहत उल्लंघन (उल्लंघन) के तहत नहीं हैं।
  • यदि किसी दंपत्ति को 1.1.2021 को बच्चा होता है और दूसरी गर्भावस्था में दो और बच्चों को जन्म देता है तो भी वे किसी भी उल्लंघन के अधीन नहीं हैं।
  • यदि किसी दंपत्ति को 1.1.2021 को पहली गर्भावस्था से दो बच्चे हुए हैं और 1.1.2023 को दूसरी गर्भावस्था से दो और बच्चों को जन्म दिया है, तो दंपति का उल्लंघन है। इसका साफ मतलब है कि आप यूपी सरकार की इस नीति का उल्लंघन करेंगे।
  • यदि किसी दंपत्ति की शादी से कोई बच्चा नहीं है और उन्होंने दो बच्चों को गोद लिया है तो युगल किसी भी उल्लंघन के तहत नहीं है।
  • यदि दंपति की शादी से कोई संतान नहीं थी, लेकिन उन्होंने दो से अधिक बच्चों को गोद लिया था, तो वे उल्लंघन के अधीन हैं।
  • यदि दंपति की शादी से दो बच्चे थे और उन्होंने एक बच्चे को गोद लिया था तो वे किसी भी उल्लंघन में नहीं हैं।
  • यदि दंपति के दो बच्चे थे और उन्होंने दो या दो से अधिक बच्चों को गोद लिया था तो वे भी यूपी में 2 बाल नीति के उल्लंघन के तहत हैं।

आईसीसी टी20 विश्व कप 2021

यूपी टू चाइल्ड पॉलिसी रूल्स

यूपी 2 बाल नीति के नए नियम यूपी राज्य विधि आयोग के आधिकारिक वेबसाइट पोर्टल upslc.upsdc.gov.in पर प्रस्तुत किए गए हैं। वहां वेबसाइट में सबसे ऊपर आपको 2 चाइल्ड पॉलिसी ड्राफ्ट बिल का लिंक मिलेगा। बस लिंक पर क्लिक करें और आपको सरकारी, निजी कर्मचारियों के लिए यूपी जनसंख्या नियंत्रण विधेयक की हिंदी में पीडीएफ डाउनलोड मिल जाएगी। यह पठनीय रूप में है और आप पूरी पॉलिसी को आसानी से पढ़ सकते हैं। खैर, हमने यूपी सरकार दो बाल नीति क्या है के लिए पहले से ही कुछ नियमों के बारे में जानकारी दी है। अधिक मान्य बिंदु यहाँ इस प्रकार हैं:

  • इस नीति के तहत जो सरकारी कर्मचारी नहीं हैं लेकिन नीति का पालन करते हैं उन्हें बिजली बिल, गृह ऋण, घरों पर कर आदि पर छूट मिलेगी।
  • बिल में राशन कार्ड इकाई को भी 4 तक सीमित कर दिया गया है।
  • उन सरकारी सेवकों या कर्मचारियों को कई प्रोत्साहन दिए जाएंगे जो 2 चाइल्ड पॉलिसी का पालन करेंगे। इसके अलावा गरीबी रेखा से नीचे आने वाले जोड़ों के लिए भी प्रोत्साहन दिया गया है।
  • यूपी जन्म नियंत्रण नीति के तहत दिए गए प्रोत्साहन।
  • उन सरकारी कर्मचारियों के लिए प्रोत्साहन जो दो बाल नीति मानदंडों का पालन कर रहे हैं:
  • निर्माण के लिए सॉफ्ट लोन आपको न्यूनतम दरों पर दिया जाएगा।
  • होम लोन, बिजली शुल्क आदि पर छूट।
  • कर्मचारी को उनकी पूरी सर्विस लाइन में 2 अतिरिक्त वेतन वृद्धि दी जाएगी।
  • डीए और हाउसिंग बोर्ड से जमीन या बिल्डिंग होज खरीदने पर आपको सब्सिडी दी जाएगी।
  • नि:शुल्क स्वास्थ्य सुविधा।
  • जीवनसाथी का बीमा कवरेज।
  • महिला सरकारी कर्मचारियों को पूरे वेतन के साथ 12 महीने का मातृत्व अवकाश दिया जाएगा।
  • पेंशन पॉलिसी के तहत नियोक्ता निधि योगदान में 3% की वृद्धि होगी।
  • ** जो दम्पति गरीबी रेखा से नीचे के हैं और जिनकी केवल एक संतान है, उन्हें भी आकर्षक प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।
  • यदि यह एक लड़का है तो जोड़े को 80,000 रुपये की राशि दी जाएगी।
  • यदि यह लड़की है, तो जोड़े को 1,00,000 की एकमुश्त राशि दी जाएगी।

upslc upsdc gov यूपी सरकार जनसंख्या नियंत्रण ड्राफ्ट बिल सुझाव

उत्तर प्रदेश नियंत्रण कानून 2021- 30 बिल ड्राफ्ट पीडीएफ अब यूपी विधि आयोग की आधिकारिक वेबसाइट upslc.upsdc.gov.in द्वारा जारी किया गया है। अब उत्तर प्रदेश सरकार की दूसरी बाल नीति में विभिन्न मानदंडों, नियमों, बिंदुओं का उल्लेख किया गया है। हालाँकि यह केवल एक मसौदा विधेयक है और सरकार ड्राफ्ट में सुधार के लिए लोगों, व्यक्तियों से संशोधनों और अन्य विचारों के सुझाव मांग रही है। अब कोई भी व्यक्ति अपने सुझाव यूपी टू चाइल्ड पॉलिसी जनसंख्या नियंत्रण बिल ड्राफ्ट पीडीएफ पर ईमेल द्वारा भेज सकते हैं [email protected] या 19 जुलाई 2021 की अंतिम तिथि तक नवीनतम पोस्ट करें। upslc upsdc gov in पर अंतिम बिल अपडेट देखने के लिए बने रहें।

उत्तर प्रदेश सरकार 2 बाल नीति, जनसंख्या नियंत्रण मसौदा विधेयक, आधिकारिक वेबसाइट के संबंध में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

कौन हैं एएन मित्तल?

एएन मित्तल राज्य विधि आयोग के अध्यक्ष न्यायमूर्ति उत्तर प्रदेश हैं।

यूपी में 2 चाइल्ड पॉलिसी की घोषणा के बाद मित्तल ने क्या कहा?

उन्होंने कहा कि सरकार उन लोगों पर करदाताओं का पैसा बर्बाद नहीं होने देगी जिनके दो से अधिक बच्चे हैं। सीमित संसाधनों के साथ नागरिकों को भी इस बात की जानकारी होनी चाहिए कि जन्म नियंत्रण क्यों जरूरी है और क्यों जरूरी है।

मैं एक सरकारी कर्मचारी नहीं हूं और मेरा एक ही बच्चा है, क्या मुझे कोई लाभ मिल सकता है?

हां। आपको लाभ भी मिल सकता है। पूरी विस्तृत नीति ऑनलाइन पढ़ें।

यूपी में 2 चाइल्ड पॉलिसी का नया जनसंख्या विधेयक कब लागू होगा?

इसे उत्तर प्रदेश सरकार से राजपत्र अधिसूचना जारी करके अधिसूचित किया जाएगा।

यूपी जनसंख्या नियंत्रण विधेयक ड्राफ्ट नागरिकता नियंत्रण कानून 2021 का प्रस्ताव किसने दिया है?

उत्तर प्रदेश राज्य विधि आयोग (विधि आयोग) ने यह बिल तैयार कर पेश किया है।

यूपी विधि आयोग की आधिकारिक वेबसाइट कौन सी है?

यूपीएसएलसी की आधिकारिक वेबसाइट upslc.upsdc.gov.in है।

आज उत्तर प्रदेश की वर्तमान जनसंख्या कितनी है?

विश्व मीटर की जानकारी के अनुसार 2021 में उत्तर प्रदेश की जनसंख्या 24.1 करोड़ होने का अनुमान है।

Leave a Comment